60 साल की हूँ मजा आ रहा है चुदने में 22 साल के लड़के से

60 year old Indian lady sex Story, old woman sex story : मैं उत्तर प्रदेश से हूँ मैं 60 साल औरत हूँ। अपने ज़िंदगी में खुश थी अपने पति से ही सेक्स किया था पूरी ज़िंदगी। पर एक लालसा रह गई थी की मैं किसी और से भी चुदुँ, मुझे पति के अलावा और भी कोई चोदे। पर पारिवारिक जीवन में फंस गई बेटियों की शादी फिर बेटे की शादी। बेटियां ससुराल में है एक बेटा है वो इंडिया से बाहर रहता है।

मेरे पति जो करीब 67 साल के हैं वो संन्यास ले लिए है। उनका अब खड़ा भी नहीं होता है तो सन्यास ही लेंगे। वो हमेशा सत्संग में ही रहते हैं। वो महीने में 10 दिन कभी ऋषिकेश तो कभी वृन्दावन।

उनका पेंशन आता है तो किसी चीज की कमी नहीं है। मैं अपने दिल्ली के फ्लैट में रहती हूँ। दोस्तों, मैं एक साल से नॉनवेज स्टोरी को पढ़ रही हूँ। पढ़कर मुझे बहुत अच्छा लगता है। जवान हो जाती हूँ, इस वेबसाइट की कहानियां पढ़कर। अभी भी मेरी चूत गीली हो जाती है मेरी चूचियां बड़ी हो जाती है और निप्पल टाइट हो जाता है।

सच तो ये बात है अभी भी मेरी चूचियां और चूत किसी जवान लड़की के जैसी ही है. अपने आप को मेंटेन करके रखी हूँ। हॉट भी हूँ खुबसूरत भी हूँ। मुझे लगा की अपने आप को बूढी कहना ठीक नहीं होगा। क्या पता किसका कब्ब क्या होगा। मजे ले लो ज़िंदगी का क्यों सोचना इधर उधर की बातें।

दोस्तों मेरे फ्लैट के ऊपर फ्लोर पर एक लड़का (मनीष) रहता है जो की इंजीनियरिंग कर रहा है। उसके मम्मी पापा दोनों आगरा में रहते हैं दोनों जॉब करते हैं तो ये लड़का अकेले ही रह कर पढाई कर रहा है।

भैया ने चोदा और साथ दी भाभी लॉक डाउन में

उसके पेरेंट्स ये सोचते हैं मैं उसका ख्याल रखती हूँ। और रखती भी हूँ पहले तो बेटे की तरह था पर रिश्ता बना सेक्स तब से तो मैं खुद जवान महसूस करने लगी हूँ। और उसको अपना यार मानने लगी हूँ। क्यों की रिश्ता अब कुछ और हो गया है।

मनीष कभी कभार मजाक भी मुझसे कर लेता था कभी ये भी कहता की मैं किसी जवान से कम नहीं हुई पहले तो मुझे अच्छा लगता था फिर लगा की जब मैं इतनीं जवान लग ही रही हूँ तो क्यों ना तुम मजा भी ले लो। तो एक दिन जब वो मुझे बोला आंटी आप हॉट लग रहे हो तो मैं बोल दी ठीक है आ जाना रात में। वो शरमा आया और वह से चला गया.

मुझे लगा की मैं कही गलत तो नहीं कह दी क्या सोचेगा। इतनी उम्र की हो गई है पति तो दिन भर प्रवचन सुनता है और ये यहाँ जवान बनी फिर रही रही। पर मैं सोची कोई बात नहीं जो होगा देखा जाएगा। यही सोचकर मैं आराम से रात को खाना बनाई और खाई भी। रात को जी टीवी पर डीएनए देख रही थी। तभी उसका मैसेज आया व्हाटप्प पर की आपने जो बोला था। क्या मैं सच में आ जाऊ?

मुझे लगा की क्या कहूं। कुछ समझ नहीं आ रहा था। मेरे पसीने छूटने लगे। क्यों की मैं कभी किसी और से सम्बन्ध रखी नहीं थी उसमे भी एक ऐसा लड़का जो मेरे से उम्र में करीब तीन गुना छोटा है। इतना बड़ा तो मेरा नाती होने बाला है। पर मैं सोची कुछ सपने अधूरे नहीं रहने चाहिए।

मैं तुरंत ही मैसेज कर दी। आ जाओ।

वो करीब पांच मिनट में ही आ गया। मैं फ्रीज़ खोली और पेप्सी निकाली और उसे भी दी और अपने भी ली। वो मुझे निहार रहा था। मैं भी उसके पेंट के तरफ देख रही थी। लड़का बहुत ज्यादा हॉट था। मैं बोली पहले एक बात सुन मेरी। ये बात किसी से भी और किसी भी हालात में किसी और से शेयर नहीं करना। और मुझे कभी बदनाम नहीं करना। और जब मेरे यहाँ कोई आये तो फिर मेरे से कुछ भी ऐसे बात नहीं करना ना कोई इशारा।

अगर ये सब तुम कर सकते हो तो हम दोनों एक अलग ज़िंदगी जी सकते हैं। तुम भी अकेले रहते हो मैं भी अकेली रहती हूँ। एक दूसरे का ख्याल दिल से दिमाग से और शरीर से भी रख सकते हैं इमोशन जोड़ सकते हैं।

वो बोला मैं कसम खाता हूँ अपनी माँ की कसम। मैं भी यही चाहता हूँ आप भी कुछ नहीं बोले किसी से। दोनों राजी हो गए। और अपने दरवाजें खिड़की लगा दिए। अपने बैडरूम में चली गई। बल्कि लाइट का बल्ब जला दी। AC चला दी। मैं उसके पास गई वो भी आगे आये और उसके कंपकपाते होठ मेरे गाल को चुम लिया। मैं भी उसके गाल को चुम ली। वो मेरी चूचियों को छूने लगा और दबाने लगा।

जुड़वाँ भाई बहन : भैया ने आज मुझे चोदा बाथरूम में

मैं तुरंत ही अपना कपड़ा उतार दी। ब्रा और पेंटी पर आ गई। वो ब्रा भी खोलने को कहा तो मैं बोली ये खोलना तुम्हारा काम है। वो हँसते हुए ब्रा का हुक खोल दिया। मैं अपने बेड पर लेट गई। वो मेरी चूचियां दबाने लगा और मेरे निप्पल को चूसने लगा। आज मुझे पहली बार एहसास हुआ दूध पिलाने और निप्पल चुसवाने का मजा अलग ही होता है।

मेरी चूत गीली होने लगी सिसकारियां मुँह से निकलने लगी। मैं दांत पीस रही थी। उसको अपनी आगोश में ले ली। मैं उसके होठ को लॉक कर ली अपने होठ से अपना जीभ उसके मुँह में डाल दी वो मेरे जीभ को चूसने लगा। मैं काम आतुर हो गई। मैं बैठ गई उसको लिटा दी। उसका लौड़ा अपने मुँह में ले ली। और चूसने लगी जैसे जानदार शानदार आइसक्रीम हो।

वो वर्जिन में उसे कौतुहल होने लगा। वो बार बार अंगड़ाइयां लेता। मुँह से ऐसी आवाजे निकलता जैसे की मिर्ची लग गई हो। और अपने शरीर को खुद से ही झकझोर लेता। ये सब मुझे और भी ज्यादा पागल बना रहा था। अब मैं चुदना चाह रही थी।

मैं लेट गई और बोली डाल अब अपना लौड़ा मेरी चूत में और मेरी काम वासना और सेक्स की तड़प को कम कर दे अब मुझे ऐसा चोद जैसा की तू किसी लड़की को चोद रहा है या ऐसा सोच तू अपनी बीवी के साथ सुहागरात मना रहा है।

वो लड़का अपना लौड़ा निकाला और मेरी चूत पर लेगा को घुसा दिया। मुझे ऐसा लगा प्यासी थी और किसी ने ठंडा पानी का ग्लास हाथ में दी दिया मेरे मन को शुकुन मिला जैसे ही लौड़ा अंदर गया। अब मैं बेचने हो गई। मैं कामवासन में पागल होने लगी। शरीर थरथराने लगा। मुझे जोरजोर से चाहिए थे। मैं बोली जोर से मार जोर से मार वो जोर जोर से चोदने लगा।

मैं उसको अपने पैरों में फंसा ली। दूध पिलाने लगी चूचियां मसलबाने लगी। होठ लॉक करने लगी। और अपने में उसको समेट के समा रही थी। उसका मोटा लौड़ा मेरी चूत से अंदर बाहर हो रहा था।

दोस्तों मुझे आज कई वर्षों बाद ऐसी चुदाई नसीब हुई थी। मैं खूब मजे लेने लगी पर वो अनाड़ी था जल्दी ही झड़ गया।

पर दूसरे दिन से वो मुझे बहुत ही ज्यादाखुश करने लगा। अब तो मेरी ज़िंदगी जन्नत बन गई है। एक जवान लड़के के लंड से प्यार हो गया है। और वो कर रही हूँ जो शायद ही किसी इस उम्र की औरत को नसीब होगा है। हॉट सेक्स स्टोरीज पिक्चर्स डॉट कॉम पर अपनी दूसरी कहानी जल्द ही पोस्ट करने वाली हूँ।

लंड की प्यास कम होती नहीं चूत गीली ही रहती है क्या करूँ?


Share on :