मेरा पहला सेक्स अपनी स्कूल टीचर की चुदाई

दोस्तो, मैंने अन्तर्वासना पर बहुत सारी चुदाई की कहानी पढ़ी हैं, तो सोचा कि मैं भी अपनी टीचर की चुदाई सेक्स स्टोरी इधर भेज दूँ। यह मेरा पहला सेक्स का अनुभव था।


यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप www.HindiSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहे हैं

मेरा नाम आर्यन है, मैं जम्मू का रहने वाला हूँ, मेरा कद लंबा है और रंग गोरा है।
पहली बात जब हम पहली बार किसी के साथ सेक्स करते हैं तो हम 2-4 मिनट तक सेक्स करते हैं, उसके बाद हमारा माल निकल जाता है। लेकिन इधर कुछ ऐसी कहानियाँ हैं कि यहाँ किसी ने पहली बार में 20 मिनट तक सेक्स किया है.. ये सब कहानियाँ मुझे हैरत में डाल देती हैं.. हो सकता है कि ये सच होती हों।

बात तब की है, जब मैं 12वीं के एग्जाम के रिज़ल्ट का वेट कर रहा था और मुझे इसके लिए अपना 10 वीं का डिप्लोमा लेने के लिए अपने पुराने स्कूल जाना पड़ा। मैं डिप्लोमा लेने के लिए वहाँ गया। मैंने प्रिंसीपल से डिप्लोमा लेने के लिए बात की और प्रिंसीपल ने बोला कि कल आना।

फिर मैं स्कूल के साथ प्रिंसीपल के कमरे से बाहर चला गया.. वहाँ पर मैं सबसे मिला क्योंकि मेरी सबसे बनती थी। जब मैं वापिस अपने घर जाने लगा तो मुझे एक टीचर ने बुलाया।
उन मैडम का नाम राजू था.. वो मुझे 10वीं में इंग्लिश पढ़ाया करती थीं। उन्होंने जब मुझे बुलाया तो मैं चला गया।

टीचर ने पूछा- आर्यन, तुम कैसे हो?
मैंने कहा- मैं ठीक हूँ मेम.. आप बताइए आप कैसी हो?
उन्होंने मुस्कुरा कर कहा- मैं भी ठीक हूँ।
फिर टीचर ने पूछा- तुम यहाँ कैसे?
मैंने कहा- मेम, मैं अपना डिप्लोमा लेने के लिए आया हूँ।

उसी टाइम स्कूल की छुट्टी भी हो गई।

मैं वापिस जाने लगा तो टीचर ने पूछा- तुम कहाँ जा रहे हो?
मैंने कहा- मैं घर जा रहा हूँ।
तो टीचर ने बोला- मुझे भी घर ड्रॉप कर दो।

मैंने टीचर को अपनी बाइक पर बिठाया और उन्हें घर ड्रॉप कर दिया।

फिर मैं अगले दिन डिप्लोमा लेने के लिए स्कूल गया ही नहीं क्योंकि मुझे किसी काम से हीरा नगर जाना पड़ा। मैं सुबह 10 बजे हीरा नगर के लिए निकला और सारा काम खत्म करके शाम को 5 बजे वहाँ से निकल आया। लगभग 6 बजे मैं त्रिकुटा नगर पहुँचा और जैसे ही वहाँ पहुंचा, बारिश शुरू हो गई।

मैं थोड़ी देर एक शेड के पास रुक गया और बारिश थमने का वेट करने लगा, पर बारिश थमने का नाम ही नहीं ले रही थी। मैं रुका रहा तभी वहाँ पर एक औरत रुकी उसने छाता लिया हुआ था।
उसने मेरी तरफ देखा और कहा- अरे आर्यन, तुम यहाँ क्या कर रहे हो?

मैंने देखा कि वो राजू मेम थीं, मैंने पूछा- मेम आप यहाँ क्या कर रही हो?
टीचर ने बोला- वही तो मैं तुमसे पूछ रही हूँ.. तुम यहाँ क्या कर रहे हो?
मैंने कहा- मेम, मैं हीरा नगर गया था और वहीं से आ रहा हूँ।
तो टीचर ने बोला- तुम मेरे घर चलो, यहाँ बहुत बारिश हो रही है।
मैंने कहा- नहीं मेम, मैं यहाँ ठीक हूँ।
तो टीचर ने कहा- अरे मेरा घर पास में है वहाँ चलो, जब बारिश बंद हो जाए तब घर चले जाना।
मैंने कहा- ठीक है, आपके घर चलते हैं।

मैं उनके घर चला गया, घर पहुँचने तक मेरे सारे कपड़े गीले हो चुके थे और टीचर के भी कपड़े कुछ गीले हो गए थे।
मैंने टीचर से कहा- मेम, मेरे सारे कपड़े गीले हो चुके हैं।
मेम ने कहा- मैं तुम्हारे लिए कुछ कपड़े लाती हूँ।

टीचर मेरे लिए कपड़े लेकर आईं जो कि मुझे पूरे फिट बैठे। मेम ने भी अपने कपड़े चेंज कर लिए थे.. अब उन्होंने वाइट कलर का टॉप और पजामा पहना हुआ था।
मैं कामुकता से उनके मम्मों को देखने लगा।
टीचर ने मुझसे पूछा- आर्यन, तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?
मैंने कहा- नहीं अभी तक मैंने कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनाई।
उन्होंने फिर पूछा- तुम्हें क्या-क्या करना पसंद है?
मैंने कहा- मुझे बारिश में भीगना और घूमना पसंद है।
फिर टीचर ने कहा- अरे वाह मुझे भी भीगना पसंद है, चलो आओ बाहर बारिश में भीगते हैं।

थोड़ी देर तो मैंने मना किया, पर उन्होंने मुझे बार-बार बोल कर बारिश में भीगने पर मजबूर कर ही दिया। उस समय शाम के 8 बज रहे थे, मैं और मेम गार्डन में गए और खूब बारिश में नहाए। टीचर का वाइट टॉप पूरा गीला हो गया था, जिसमें से उनके चूचे साफ़ दिख रहे थे।

तभी आसमान में जोर की बिजली कड़कने की आवाज़ आई और टीचर मुझसे चिपक गईं और अगले ही पल हट गईं।
उस टाइम मुझे ठंड भी लग रही थी मुझे टीचर का चिपका अच्छा लगा, मैंने टीचर से कहा- मेम, मुझे ठंड लग रही है।
टीचर ने कातिलाना अंदाज में कहा- मेरे पास आ जाओ।

मैं टीचर के पास चला गया, टीचर ने मुझे अपनी बांहों में भरते हुए कसके पकड़ लिया।

आह.. उस टाइम क्या सीन था.. वो मेम के चूचे मेरी छाती के साथ चिपके हुए थे। मैंने मेम के पेट पर हाथ फेरा और कहा- मेम अन्दर चलें?

हम दोनों अन्दर आ गए, मुझे और मेम को ठंड लग रही थी। मैंने अब कुछ नहीं देखा और मैंने मेम को कसके पकड़ लिया। मैंने उन्हें बस पकड़े रखा, फिर मैंने मेम की पीठ पे हाथ फेरा, तो मेम सिहर गईं और अगले ही पल हम दोनों अलग हो गए।

मैंने और टीचर ने एक-दूसरे की आँखों में देखा और बस मैंने टीचर के होंठों के ऊपर अपने होंठ रख दिए।
बस फिर क्या था.. टीचर भी मेरा साथ देने लगीं। मैंने फिर मेम का वाइट टॉप ऊपर करते हुए निकाल दिया और टीचर के चूचे दबाने लगा। टीचर ने कुछ नहीं बोला। कुछ देर मम्मों को मसलने के बाद मैंने टीचर का पाजामा उतारा, टीचर ने अन्दर से कुछ नहीं पहना हुआ था।

मैंने टीचर के होंठों पे एक और किस की और उसी के साथ उसकी फुद्दी पर हाथ फेरने लगा। फिर मैंने अपने सारे कपड़े उतारे.. मेरा लंड जोकि 6.5 इंच लंबा और 3.5 इंच मोटा है.. वो तन कर खड़ा हो गया।
दोस्तो, ना मुझे लंड चूसने में इंटरेस्ट है और ना ही फुद्दी चाटने में.. अपुन तो सीधे चुदाई का मजा लेने में विश्वास रखते हैं।

फिर मैं टीचर को बिस्तर पर ले गया और वहाँ पर हम दोनों ने एक ज़बरदस्त किस किया। मैंने टीचर की टांगों को चौड़ा किया और जैसे ही अपने लंड को उनकी फुद्दी में डालने लगा.. अति उत्तेजना के कारण मेरे लंड से माल निकल गया।
टीचर ने मुझे आँखों से आश्वस्त किया। फिर मैंने कुछ नहीं किया, मैंने एक और होंठों पर किस की और उनके चूचे को दबाया, अब मेरा लंड खड़ा होने लगा था। मैं दुबारा लंड फुद्दी में डालने लगा। टीचर की फुद्दी टाइट थी.. पर लगभग 4-5 धक्कों के बाद मेरा लंड पूरा फुद्दी में घुस गया और फिर मैंने अपना मुँह मेम के चूचे पर लगाया और लगातार झटके देने लगा।

अब मेम के मुँह से आवाजें निकल रही थीं- अह.. आर्यन और तेज.. फक मी फास्ट आर्यन.. फक हार्ड..

कोई 5 मिनट बाद मेरा माल निकलने को हुआ.. मैंने मेम को देखा वो भी तृप्त दिख रही थीं। उनकी सहमति के साथ ही अपना माल मेम के अन्दर ही डाल दिया। हम दोनों एक-दूसरे से 10 मिनट तक चिपके रहे। फिर मुझे नींद आ गई और मैं वहीं सो गया।

रात को 2 बजे मेरी नींद खुली.. मेम भी जागी हुई थीं, बाहर तेज बारिश की आवाज आ रही थी।
मैंने मेम से बोला- चलो बाहर बारिश में चलें।
‘कहाँ बारिश में?
‘हूँ..’
फिर टीचर ने कहा- कपड़े पहन लूँ?
मैंने कहा- कौन सा कोई देख रहा है।

टीचर हंस दीं.. हम दोनों बाहर नंगे ही चले आए और बारिश में जा कर हम दोनों ने एक-दूसरे को पकड़ के खूब किस किया। फिर हम दोनों ने खुले आसमान के नीचे ही सेक्स किया।

इसके बाद हम दोनों सो गए। सुबह जब बारिश बंद हुई तो मैं अपने घर चला गया।


यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप www.HindiSexStoriesPictures.Com पर पढ़ रहे हैं

दोस्तो बताओ आपको मेरी टीचर की चुदाई की सेक्स स्टोरी कैसी लगी.. अपने फीड बैक जरूर देना।

Share on :